Vikrant Massey spoke on his Bollywood career, said – I have been my only mentor | विक्रांत मैसी ने अपने बॉलीवुड करियर पर की बात, बोले- मैं ही अपना एकमात्र मेंटोर रहा हूं

11 मिनट पहले

  • कॉपी लिंक

बॉलीवुड एक्टर विक्रांत मैसी से जब एक इंटरव्यू के दौरान पूछा गया कि क्या वो निराश महसूस करते हैं कि वो खुद को बड़े पर्दे पर इन प्रमुख भूमिकाओं को निभाते हुए नहीं देख पाए, तो जवाब में वो कहते हैं, “आप निराश महसूस करते हैं क्योंकि आप सोचते हैं कि यह फिल्म थिएटर में रिलीज होगी और आपको खुद को बड़े पर्दे पर देखने का मोका मिलेगा। हालांकि, मैं शुक्रगुजार हूं कि यह एक ऐसा मीडियम था जो इस कठिन समय के दौरान ताजा कंटेंट दिखाने में सक्षम था। मेरे कई प्रोजेक्ट्स ओटीटी पर रिलीज हुए। अंत में, यह आपकी कहानियों के माध्यम से लोगों के साथ कम्यूनिकेट करने के लिए लोगों तक पहुंचने के बारे में है, चाहे वह किसी भी मीडियम का हो। यह अपने आप में एक अनुभव है और मुझे उम्मीद है कि हम इसे जल्द ही देखेंगे।”

सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में नहीं हैं विक्रांत के फॉलोअर्स

विक्रांत आगे कहते हैं, “हर समय फैशनेबल दिखना, ग्लैमरस तस्वीरें दिखाना और सोशल मीडिया पर एक्टिव होना कुछ ऐसा है जिसमें मैं प्रो नहीं हूं। ये फैशन आज बहुत महत्वपूर्ण हैं। मैं एक दशक से अधिक समय से इंडस्ट्री में हूं, फिर भी मेरे सोशल मीडिया पर बड़ी संख्या में फॉलोअर्स नहीं हैं। यह ऐसा कुछ नहीं है जिसके बारे में मैं चिल्ला रहा हूं, लेकिन यह एक ऐसी चीज है जिसे मैं आज एक महत्वपूर्ण पहलू के रूप में पहचानता हूं। मैं इस पर काम कर रहा हूं, लेकिन अपने कंफर्ट जोन में रहकर। मैं अपनी प्रायोरिटी के माध्यम से अपनी ऑडियंस की चीजों पर ध्यान देना चाहूंगा, जो कि एक्टिंग है।”

10 वर्षों तक टेलीविजन शो में एक्टिंग करने पर खुद को भाग्यशाली मानते हैं विक्रांत

विक्रांत, साझा करते हैं, “मैं एक सीखा हुआ एक्टर नहीं हूं। मैं अपने पर्फोर्मेंस के माध्यम से जो आर्ट साझा करता हूं, वो मेरे ऑब्जर्वेशन और मेरी ग्रास्पिंग पावर के माध्यम से है। मैं बहुत कीन ऑब्जर्वर और क्यूरियस पर्सन हूं। मैं बहुत भाग्यशाली था कि मुझे लगभग 10 वर्षों तक टेलीविजन शो में एक्टिंग करने का अवसर मिला। मुझे इंडस्ट्री के कुछ बेहतरीन एक्टर्स के साथ काम करने का मौका मिला। इसके अलावा, ऐसे एक्टर भी हैं जिन्हें आप इरफान या नसीरुद्दीन शाह की तरह देखते हैं। मैं फिल्में देखकर और पर्फोर्मेंस को ध्यान में रखकर अपने स्किल को निखारता था। मैं खुद को बेहतर बनाने की एक्सरसाइज के तौर पर हर दिन एक फिल्म देखता हूं।”

खुद को अपना एकमात्र मेंटोर मानते हैं विक्रांत

विक्रांत को अब तक क्या कोई ऐसा गुरु मिला जिसने उनका मार्गदर्शन किया? इस पर वो कहते हैं, ”मैं कहना चाहूंगा कि मैं ही मेरा एकमात्र मेंटोर रहा हूं। मेरे भीतर एक आवाज है जो मेरा मार्गदर्शन कर रही है। मुझे लगता है कि मुझे सही रास्ता दिखाने में इस आवाज ने अच्छा काम किया है। मैं 34 साल का हूं और आधे जीवन से मैं पेशे से एक एक्टर रहा हूं।”

खबरें और भी हैं…