Students need knowledge of computer and mobile in digital age

डिजिटल इंडिया: ट्राइबल आर्ट का स्मृति चिंह भेंटकर सम्मान

उमरिया. मप्र शासन, उच्च शिक्षा विभाग के स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन प्रकोष्ठ के अंतर्गत शासकीय आदर्श महाविद्यालय उमरिया के छात्र-छात्राओं का एक प्रशिक्षण कार्यक्रम इन्फॉरमेंशन टेक्नालॉजी माइक्रोसिस इस्टीट्यूट ऑफ कम्प्यूटर एंड टेक्नालॉजी में संपन्न हुआ है। प्रमाण-पत्रों का वितरण ईला तिवारी, मुख्य कार्यपालन अधिकारी, जिला पंचायत उमरिया के मुख्य आतिथ्य, जीएस टेकाम, अतिरिक्त मुख्य कार्यपालन अधिकारी एवं महेश गुप्ता, संचालक, माइक्रोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ कम्प्यूटर एण्ड टेक्नालॉजी के विशिष्ट आतिथ्य एवं डॉ. एमएन स्वामी, प्राचार्य, शासकीय आदर्श महाविद्यालय उमरिया की अध्यक्षता में हुआ। कार्यक्रम के मंगलाचरण में महाविद्यालय के प्राचार्य डॉ. स्वामी ने मुख्य अतिथि श्रीमती तिवारी को पुष्पगुच्छ एवं ट्रायबल आर्ट का स्मृति चिन्ह भेंट किया। मुख्य अतिथि की आसंदी से उद्गार व्यक्त करते हुए उन्होंने कहा कि वर्तमान युग डिजिटल युग है और छात्र-छात्राओं को कम्प्यूटर एवं मोबाईल की पूर्ण जानकारी होना आवश्यक है। नई राष्ट्रीय शिक्षा नीति में भी इसका समावेश किया गया है। महाविद्यालय की सहा. प्राध्यापक डॉ. सत्या सोनी, नीशि कर्ण, श्रीमती शारदा सोनी एवं डॉ. परमेश्वर सिंह मरावी तथा डॉ. विनय कुमार कुशवाहा और डॉ. पिंकी सोमकुंवर ने भी अपने विचार रखे। कार्यक्रम के बाद मुख्य अतिथि, विशिष्ट अतिथि एवं कार्यक्रम अध्यक्ष ने पं. दीनदयाल उपाध्याय वाटिका में शांति का प्रतीक केले के पौधे रोपे गए। कार्यक्रम का संचालन रसायनविद् डॉ. अभय पाण्डेय द्वारा किया गया। इस अवसर पर आभार प्रदर्शन स्वामी विवेकानंद कॅरियर मार्गदर्शन के जिला नोडल अधिकारी शिवकुमार हल्दकार ने किया।






Show More