Politics heats up with U-turn on demand of special status to Bihar, Opposition targets CM Nitish Kumar

पटना, आनलाइन डेस्‍क। Bihar Politics मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) अभी तक लगातार बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग करते रहे थे। हाल-हाल तक जनता दल यूनाइटेड (JDU) की तरफ से पार्टी के संसदीय दल के अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा (Upendra Kushwaha) ने भी केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार (Narendra Modi Government) से बिहार को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग उठाई थी। विपक्ष (Opposition) भी यह मांग करता रहा है। लेकिन इस मुद्दे पर अब नीतीश कुमार (Nitish Kumar) की सरकार के यू-टर्न से सियासत गरमा गई (Politics Heats-up) है। जेडीयू नेता व बिहार के योजना एवं विकास मंत्री बिजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा है कि नीतीश सरकार मांग करते-करते थक चुकी है, इसलिए अब पीएम मोदी की सरकार से विशेष राज्‍य के दर्जा की मांग नहीं की जाएगी। इसके बाद पक्ष-विपक्ष में सियासी बयानबाजी तेज हो गई है।

मंत्री बिजेंद्र यादव ने कह दी बड़ी बात

विदित हो कि बिहार के बिजेंद्र प्रसाद यादव ने कहा है कि नीतीश सरकार अब केंद्र की पीएम मोदी सरकार से बिहार को विशेष दर्जा देने की मांग नहीं करने जा रही है। बदले में वह हर क्षेत्र में विशेष सहायता की मांग करेगी। खास बात यह है कि अभी तक विशेष राज्‍य का दर्जा की मांग करते रहे मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार की सरकार का यह यू-टर्न (U-Turn of Nitish Government) इसलिए है कि उनकी सरकार मांग करते-करते थक गई है। विजेंद्र यादव के अनुसार केंद्र सरकार ने बिहार के विकास के मूल्यांकन में आंकड़ों का सही इस्तेमाल नहीं किया। मंत्री ने यह भी कह दिया कि मांग करते-करते सवा चार साल हो गए, मांग करने की भी एक सीमा होती है। अब थक कर हम विशेष राज्य की मांग छोड़ रहे हैं। अब हमें हर क्षेत्र में विशेष मदद चाहिए। मंत्री की बातों से निराशा झलक रही थी, लेकिन उन्‍होंने यह भी कहा कि वे केंद्र सरकार पर कोई आरोप नहीं लगा रहे हैं।

जेडीयू के यू-टर्न से गरमाई सियासत

अभी तक बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा देने की मांग करते रहे जेडीयू के इस यू-टर्न के कारण जो भी हों, इससे सियासत तो गरमानी हीं है। महागठबंधन (Mahagathbandhan) के घटक दल इसके लिए मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार को निशाने पर ले रहे हैं तो सत्‍ताधारी भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने राज्‍य सरकार के स्‍टैंड का स्‍वागत किया है।

तेजस्‍वी ने कसा तंज: हमारी रीढ़ सीधी

बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) ने मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार व जेडीयू को निशाने पर लिया है। साथ ही कहा है कि अगर 2024 में महागठबंधन बिहार में 39 लोकसभा की सीटें जीतता है तब उस समय के प्रधानमंत्री खुद बिहार आकर विशेष राज्य का दर्जा देने की घोषणा करेंगे। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार पर कुर्सी बचाने के लिए समझौते करने का आरोप लगाते हुए तेजस्‍वी ने तंज कसा है कि जो मुख्‍यमंत्री पटना विश्‍वविद्यालय (Patna University) को केंद्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा नहीं दिला सके, वे भला बिहार को विशेष राज्‍य का दर्जा कैसे दिला सकेंगे? जेडीयू पर हमलावर होते हुए उन्‍होंने लिखा कि राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) की रीढ़ की हड्डी सीधी है, इसलिए जो हम कहते हैं, वह करते हैं।

कांग्रेस ने बताया जन भावना से खिलवाड़

कांग्रेस (Congress) के विधान परिषद सदस्‍य प्रेमचन्द्र मिश्रा ने जेडीयू के बदले स्‍टैंड को जन भावना से खिलवाड़ बताया है। कांग्रेस पहले से ही मानती रही है कि जेडीयू व बीजेपी बिहार को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने को लेकर गंभीर नहीं हैं। नीतीश कुमार ने इस मुद्दे पर एक दशक से बिहार की जनता को गुतराह किया है।