Delhi: Charas Was Coming From Nepal, Crime Branch Busted International Module  – दिल्ली : नेपाल से आ रही थी चरस, क्राइम ब्रांच ने इंटरनेशनल मॉड्यूल का किया भांडाफोड़..

अमर उजाला नेटवर्क, नई दिल्ली
Published by: दुष्यंत शर्मा
Updated Fri, 01 Oct 2021 03:15 AM IST

सार

एक नेपाली नागरिक गिरफ्तार, 15 किलोग्राम चरस हुई बरामद, पुलिस को आगरा और दिल्ली के दो रिसीवरों की तलाश।

ख़बर सुनें

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने ड्रग्स तस्करी करने वाले एक अंतरराष्ट्रीय मॉड्यूल का भांडाफोड़ किया है। पुलिस ने नेपाली नागरिक को 15 किलो चरस के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान नेपाल निवासी नंद लाल माली (19) के रूप में  हुई है। नेपाल में बैठा सरगना सूरज दक्षिण एशियाई देश भारत, बांग्लादेश, म्यांमार व दूसरे देशों में चरस की सप्लाई कर रहा है। 

इसी मॉड्यूल के वाहिद अहमद को अपराध शाखा ने 12 किलो चरस के साथ दिल्ली से गिरफ्तार किया था। पुलिस को मामले में आगरा के इंतजार और दिल्ली के धर्मवीर उर्फ पल्ला नामक रिसीवरों की तलाश है। अपराध शाखा की टीम नंदलाल की तीन दिन की रिमांड लेकर उससे पूछताछ कर रही है।

अपराध शाखा के संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार वर्मा ने बताया कि इंटर-बॉर्डर गैंग्स इंवस्टीगेशन स्क्वायड को सूचना मिली थी कि ड्रग्स का नेपाली-मॉड्यूल एक्टिव है। वह नेपाल से भारत में अलग-अलग किस्म के नशीले पदार्थ लेकर आते हैं। इस दौरान एसीपी गिरीश कौशिक की टीम को खबर मिली कि नेपाली नागरिक नंद लाल माली चरस के साथ दिल्ली आने वाला है। 

सूचना के बाद फौरन टीम का गठन कर समालखां टी-प्वाइंट, एनएच-8 द्वारका लिंक रोड के पास से आरोपी को एक बैग के साथ दबोच लिया गया। उसके पास से मिले बैग की तलाशी ली गई तो उसमें 15 किलो चरस मिली।

आरोपी ने बताया कि चरस लेकर वह नेपाल से आया है। उसके सरगना सूरज ने उसे चरस दिल्ली में इंतजार व धर्मवीर को सौंपना थी। नंद लाल को हर बार चरस लेकर आने के 10 से 15 हजार रुपये मिलते थे। पुलिस नंद लाल से पू्छताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।

विस्तार

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने ड्रग्स तस्करी करने वाले एक अंतरराष्ट्रीय मॉड्यूल का भांडाफोड़ किया है। पुलिस ने नेपाली नागरिक को 15 किलो चरस के साथ गिरफ्तार किया है। पकड़े गए आरोपी की पहचान नेपाल निवासी नंद लाल माली (19) के रूप में  हुई है। नेपाल में बैठा सरगना सूरज दक्षिण एशियाई देश भारत, बांग्लादेश, म्यांमार व दूसरे देशों में चरस की सप्लाई कर रहा है। 

इसी मॉड्यूल के वाहिद अहमद को अपराध शाखा ने 12 किलो चरस के साथ दिल्ली से गिरफ्तार किया था। पुलिस को मामले में आगरा के इंतजार और दिल्ली के धर्मवीर उर्फ पल्ला नामक रिसीवरों की तलाश है। अपराध शाखा की टीम नंदलाल की तीन दिन की रिमांड लेकर उससे पूछताछ कर रही है।

अपराध शाखा के संयुक्त आयुक्त आलोक कुमार वर्मा ने बताया कि इंटर-बॉर्डर गैंग्स इंवस्टीगेशन स्क्वायड को सूचना मिली थी कि ड्रग्स का नेपाली-मॉड्यूल एक्टिव है। वह नेपाल से भारत में अलग-अलग किस्म के नशीले पदार्थ लेकर आते हैं। इस दौरान एसीपी गिरीश कौशिक की टीम को खबर मिली कि नेपाली नागरिक नंद लाल माली चरस के साथ दिल्ली आने वाला है। 

सूचना के बाद फौरन टीम का गठन कर समालखां टी-प्वाइंट, एनएच-8 द्वारका लिंक रोड के पास से आरोपी को एक बैग के साथ दबोच लिया गया। उसके पास से मिले बैग की तलाशी ली गई तो उसमें 15 किलो चरस मिली।

आरोपी ने बताया कि चरस लेकर वह नेपाल से आया है। उसके सरगना सूरज ने उसे चरस दिल्ली में इंतजार व धर्मवीर को सौंपना थी। नंद लाल को हर बार चरस लेकर आने के 10 से 15 हजार रुपये मिलते थे। पुलिस नंद लाल से पू्छताछ कर मामले की छानबीन कर रही है।