Cultural Programme. – सचखंड वासी संतों की स्मृति में श्री अखंड पाठ साहिब की लड़ियों का पाठ आरंभ

नानकमत्ता के धार्मिक डेरा कारसेवा परिसर में सचखंड वासी संत पुरुषों की स्मृति में रखे गए श्री अखं?

नानकमत्ता के धार्मिक डेरा कारसेवा परिसर में सचखंड वासी संत पुरुषों की स्मृति में रखे गए श्री अखं?
– फोटो : SITARGANJ

ख़बर सुनें

सचखंड वासी पंथरत्न संत पुरुष बाबा हरबंस सिंह, बाबा फौजा सिंह तथा बाबा टहल सिंह की स्मृति में नौ दिवसीय श्री अखंड पाठ साहिब की लड़ियों का पाठ शुरू हो गया। दस लड़ियों का पहला भोग 30 सितंबर को पड़ेगा। अंतिम भोग छह अक्तूबर को पड़ेगा।
मंगलवार को धार्मिक डेरा कारसेवा में सचखंड वासी संत पुरुष बाबा हरबंस सिंह, बाबा फौजा सिंह तथा बाबा टहल सिंह की स्मृति में प्रथम दिवस पर दस लड़ियों का पाठ प्रारंभ हुआ। हेड ग्रंथी जत्थेदार कारज सिंह की ओर से अरदास के उपरांत सिंह ग्रंथियों ने अखंड पाठ प्रारंभ किया। डेरा कारसेवा के सेवादार दिलबाग सिंह ने बताया कि आज रखे गए श्री अखंड पाठ साहिब का भोग 30 सितंबर को पड़ेगा। 30 सितंबर को रखे गए श्री अखंड पाठ साहिब का भोग दो अक्तूबर, दो अक्तूबर को रखे गए श्री अखंड पाठ साहिब का भोग चार अक्तूबर तथा चार अक्तूबर को रखे गए लड़ियों के अंतिम पाठ का भोग छह अक्तूबर को पड़ेगा।
वहां डेरा कारसेवा के प्रमुख संत बाबा बचन सिंह, बाबा सुरेंद्र सिंह, बाबा तरसेम सिंह, बाबा श्याम सिंह, बाबा गेजा सिंह, बाबा रेशम सिंह, बाबा सज्जन सिंह, बाबा सतनाम सिंह, गुरुद्वारा प्रबंधक रणजीत सिंह, प्रबंधक कमेटी के सदस्य जरनैल सिंह, सिख प्रचार मिशन के प्रचारक सुखविंदर सिंह, सेवादार दारा सिंह निरवैर सिंह संधू, गुरसेवक सिंह आदि थे।

सचखंड वासी पंथरत्न संत पुरुष बाबा हरबंस सिंह, बाबा फौजा सिंह तथा बाबा टहल सिंह की स्मृति में नौ दिवसीय श्री अखंड पाठ साहिब की लड़ियों का पाठ शुरू हो गया। दस लड़ियों का पहला भोग 30 सितंबर को पड़ेगा। अंतिम भोग छह अक्तूबर को पड़ेगा।

मंगलवार को धार्मिक डेरा कारसेवा में सचखंड वासी संत पुरुष बाबा हरबंस सिंह, बाबा फौजा सिंह तथा बाबा टहल सिंह की स्मृति में प्रथम दिवस पर दस लड़ियों का पाठ प्रारंभ हुआ। हेड ग्रंथी जत्थेदार कारज सिंह की ओर से अरदास के उपरांत सिंह ग्रंथियों ने अखंड पाठ प्रारंभ किया। डेरा कारसेवा के सेवादार दिलबाग सिंह ने बताया कि आज रखे गए श्री अखंड पाठ साहिब का भोग 30 सितंबर को पड़ेगा। 30 सितंबर को रखे गए श्री अखंड पाठ साहिब का भोग दो अक्तूबर, दो अक्तूबर को रखे गए श्री अखंड पाठ साहिब का भोग चार अक्तूबर तथा चार अक्तूबर को रखे गए लड़ियों के अंतिम पाठ का भोग छह अक्तूबर को पड़ेगा।

वहां डेरा कारसेवा के प्रमुख संत बाबा बचन सिंह, बाबा सुरेंद्र सिंह, बाबा तरसेम सिंह, बाबा श्याम सिंह, बाबा गेजा सिंह, बाबा रेशम सिंह, बाबा सज्जन सिंह, बाबा सतनाम सिंह, गुरुद्वारा प्रबंधक रणजीत सिंह, प्रबंधक कमेटी के सदस्य जरनैल सिंह, सिख प्रचार मिशन के प्रचारक सुखविंदर सिंह, सेवादार दारा सिंह निरवैर सिंह संधू, गुरसेवक सिंह आदि थे।