एनसीएलटी ने जी एंटरटेनमेंट को इन्वेस्को की मांग पर विचार के लिए बोर्ड की बैठक बुलाने का निर्देश दिया – nclt directs zee entertainment to convene board meeting to consider invesco’s demand

मुंबई 30 सितंबर (भाष) राष्ट्रीय कंपनी विधि न्यायाधिकरण (एनसीएलटी) ने बृहस्पतिवार को जी एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज को असाधारण आम बैठक (ईजीएम) बुलाने की इनवेस्को की मांग पर विचार करने के लिए कंपनी निदेशक मंडल की एक बैठक बुलाने का निर्देश दिया।

जी एंटरटेनमेंट में हिस्सेदारी रखने वाली कंपनी इनवेस्को की अपील पर बृहस्पतिवार को सुनवाई करते हुए एनसीएलटी ने जी एंटरटेनमेंट को निदेशक मंडल के निर्णयों को शेयरधारकों तक उचित रूप से पहुंचाने का भी निर्देश दिया।

अमेरिका स्थित कंपनी इन्वेस्को ने जी एंटरटेनमेंट के निदेशक पुनीत गोयनका समेत दो अन्य निदेशकों को हटाने और छह नए निदेशकों की नियुक्ति के साथ बोर्ड के पुनर्गठन की मांग को लेकर एनसीएलटी का रुख किया था।

इन्वेस्को की तरफ से अधिवक्ता मुकुल रोहतगी ने न्यायाधिकरण को बताया कि ज़ी एंटरटेनमेंट को वैसा नहीं चलाया जा रहा जैसा कि होना चाहिए। साथ ही शेयरधारकों के हितों को सुनिश्चित करने के लिए नए निदेशकों को बोर्ड में होना चाहिए।

इन्वेस्को ने गोयनका के अलावा दो अन्य निदेशकों अशोक कुरियन और मनीष चोखानी को भी हटाने की मांग की है।

रोहतगी के अनुसार इनवेस्को ने 11 सितंबर को ईजीएम बुलाने के लिए अनुरोध किया था। इसलिए उन्होंने एनसीएलटी से कंपनी को 45 दिन के भीतर आम बैठक आयोजित करने का निर्देश देने का भी आग्रह किया।

इसी को लेकर मामले की सुनवाई कर रही भास्कर पंतुला मोहन और चंद्रभान सिंह की एनसीएलटी मुंबई पीठ ने ज़ी एंटरटेनमेंट के बोर्ड को आम बैठक के अनुरोध पर विचार करने के लिए एक बैठक आयोजित करने का निर्देश दिया। इस मामले में अगली सुनवाई अब चार अक्टूबर को होगी।